कोर्ट की आज मुख्य खबरें

0
138

1-मनी लांड्रिंग मामले में तिहाड़ जेल में बंद दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन को लेकर राउज एवेन्यू कोर्ट में जल्द दायर होगी अर्जी।

सत्येंद्र जैन की स्वजन से होने वाली मुलाकात पर 15 दिन के लिए लग सकती है रोक। यह अर्जी तिहाड़ जेल प्रशासन की ओर से दायर की जायेगी। तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक सत्येंद्र जैन और स्वजनों के बीच होने वाली मुलाकात के दौरान जेल मैन्युअल का उल्लंघन की बात सामने आ रही है। ज्ञात हो कि प्रसारित वीडियो में यह साफ दिखाई दे रहा था कि जैन की सेल में कुर्सी, टेबल, दरी की सुविधा दी गई थी। साथ ही जैन की सेल की सफाई भी अन्य कैदी करते नजर आए थे। उपराज्यपाल द्वारा गठित उच्चाधिकार समिति की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है।

2-रेलिगेयर इंटरप्राइजेज लिमिटेड के पूर्व चेयरमैन और प्रबंध निदेशक सुनील गोधवानी की ओर से दायर याचिका पर दिल्ली हाइकोर्ट वापस ली।

गोधवानी ने अपनी की ईलाज के लिए कोर्ट से अनुमति की मांग की थी। सुनील गोधवानी को 800 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के एक मामले में साल 2020 में गिरफ्तार किया गया है। 2019 में REL मामले में पुलिस ने गोधवानी, मलविंदर मोहन सिंह, शिविंदर मोहन सिंह और अन्य के खिलाफ फर्म के अधिकृत प्रतिनिधि की शिकायत पर कंपनी के पैसे को कथित रूप से अन्यत्र भेजने और अन्य कंपनियों में निवेश करने के लिए प्राथमिकी दर्ज की। REL को पहले सिंह बंधुओं ने प्रमोट किया था।

3-उन्नाव रेप पीड़िता की ओर से दायर अग्रिम जमानत याचिका पर दिल्ली हाइकोर्ट ने राज्य सरकार को जारी की नोटिस, 6 हफ्ते में मांगा जवाब।

कोर्ट 1 मार्च को इस मामले में करेगा अगिला सुनवाई। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि आरोपी द्वारा दर्ज FIR पर पीड़िता के खिलाफ कोई कार्रवाई ना की जाये। आरोपी द्वारा दर्ज FIR में आरोप लगाया गया है कि पीड़िता और उसकी माँ ने POCSO अधिनियम के तहत अपराध साबित करने के लिए फर्जी जन्म प्रमाणपत्र पत्र बनवाया था। पीड़िता ने दिल्ली हाइकोर्ट में दायर अग्रिम जमानत याचिका में आरोप लगाया है कि आरोपी द्वारा दर्ज FIR झूठे और परेशान करने वाला है।

4-बाटला हाउस मुठभेड़ मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे है,

इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी शहजाद अहमद की ओर से दायर ट्रांसफर याचिका पर सुनवाई के बाद दिल्ली हाइकोर्ट ने शहजाद अहमद को ईलाज के लिए जीटीवी अस्पताल से सफदरजंग अस्पताल ट्रांसफर किया। शहजाद के मुताबिक वो पिछले 18 दिनों से अस्पताल में भर्ती है, लेकिन उसकी हालत दिन प्रतिदिन खराब हो रही हैं। जिसके बाद कोर्ट ने शहजाद को जीटीवी अस्पताल से सफदरजंग अस्पताल में ट्रांसफर करने का आदेश दिया। शहजाद ने उम्रकैद की सजा को दिल्ली हाइकोर्ट में चुनौती दे रखा है। दिल्ली के जामिया में 2008 में बाटला हाउस एनकाउन्टर के दौरान दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर मोहन चंद्र शर्मा की हत्या कर दी गई थी। जुलाई 2013 में निचली अदालत ने इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी शहजाद अहमद की आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

5-श्रद्धा हत्याकांड मामले में आरोपी आफ़ताब की जांच पूरी हुई।

दिल्ली पुलिस ने आफ़ताब का वॉइस सेंपल और फेस रिकग्निशन इमेज लिया।आफ़ताब का सीबीआई मुख्यालय में टेस्ट लगभग तीन घंटे तक चला।

Bhawna
Bhawna

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here